Global Reach - Regional Flavour

  • Published in 110 + countries
  • Books in 10+ languages

प्रेम की शक्ति Hindi Edition

By Sri Sri Ravi Shankar Hindi

जब प्र¢म चमकता है, यह सच्चिदानन्द है।
जब प्र¢म बहता है, यह अनुकम्पा है।
जब प्र¢म उफनता है, यह क्रोध है।
जब प्र¢म सुलगता है, यह ईश्र्या है।
जब प्र¢म नकारता है, यह घृणा है।

Buy Now
Register Now